मुखर होना आसान है जब आप पूर्ण सत्य बोलने की प्रतीक्षा नहीं करते । – रविन्द्रनाथ टैगोर

मुखर होना आसान है जब आप पूर्ण सत्य बोलने की प्रतीक्षा नहीं करते । – रविन्द्रनाथ टैगोर